Tuesday, December 30, 2008

क्या सुगुना का गौना हो जायेगा

वैसे तो पूरे देश की चिंता भारत-पाक युद्ध को लेकर है लेकिन इन दिनों एक और मुद्दा ऐसा है जो राष्ट्रीय चिंता का विषय बना हुआ है। वह है बालिका वधु यानी आनंदी की ननद सुगुना का गौना। ऐसा पहली बार तो नही हुआ जब कोई सार्थक विषय देश भर में चिंता का विषय बना है लेकिन सास बहु से मुक्ति पाकर दोबारा सार्थक विषय पर राष्ट्रीय चिंता लंबे समय बाद हो रही है। अब इस बात की खुशी मनाये या गम की देश की जनता भारत-पाक मुद्दे पर ध्यान न देकर भेरव(अनूप सोनी और बालिका वधु में सुगुना के पिता)के साथ है की कही उसकी बेटी का गौना ना हो जाये । भेरव अकेला पड़ चुका है और सुगुना अपनी ददिशा के कहने पर पूरे गाँव में न्योता दे रही है।
इस मुद्दे को लेकर कई न्यूज़ चेनल भी अपनी चिंता ज़ाहिर कर चुके हैं। फ़िर भी ये सीरियल सास-बहु की खतरनाक चालों से इतर एक सुकून देता है। हाँ तो में बात कर रहा था की क्या सुगुना का गौना हो जायेगा तो फिलहाल तो यही लग रहा है की ये हो जायेगा और हम एक सुखद एहसास से वंचित रह जायेंगे। लेकिन हकीकत यह है की राजस्थान में आज भी भेरव जेसे लोग अकेले ही रहते हैं और चाह कर भी समाज के वे लोग जो जानते हैं की बाल विवाह एक बुराई है फ़िर भी सामने नही आ पाते हैं। लंबे समय बाद बुनियाद सीरियल के बाद एक सार्थक सीरियल आया जिसे राष्ट्रीय चिंता का विषय बनाना चाहिए। में भले ही कुछ कहूँ लेकिन इस सीरियल को देखने वाले लोग जानते हैं की उनका मन भेरव के साथ है लेकिन वे कुछ नही कर सकते हैं सिवाय इंतज़ार के जो में भी कर रहा हूँ। हाँ एक काम जरूर कर सकते हैं जो में भी कर रहा हूँ की अपने पड़ोस में होने वाले बाल विवाह को रोक कर भेरव का साथ दे सकते हैं या फ़िर जिस लड़की का कम उम्र में विवाह हो गया है उसे व् उसके परिवार को समझाये की कही लड़की कम उम्र में माँ न बन जाए।
एक मदद और चाहूँगा की में अभी नया-नया लेखक बना हूँ, लिखना बिल्कुल नहीं आता इसीलिए आप मेरा मार्ग प्रशस्त करें की मीडिया के इस सिपाही के दिल में जो है उसे बेहतर केसे अपने ब्लॉग पर उतर सकूँ।

3 comments:

विनय said...

नववर्ष की हार्दिक मंगलकामनाएँ!

mehek said...

shaguna ki chinta hame bhi sata rahi hai,vaise uske maa bapu doctor se milke aaye hai,magar hame lagta hai uski maa ko shaguna ke saath baat karni chhaiye,aur uske sasural walo se bhi,ke ussko jaldi maa na bannae diya jaye,ab dadisa ne nirdhar kar liya hai to gauna koi rok nahi paayega,badut ziddi hai wo.

नीरज गोस्वामी said...

नव वर्ष की आप और आपके समस्त परिवार को शुभकामनाएं....
नीरज

हर तारीख पर नज़र

हमेशा रहो समय के साथ

तारीखों में रहता है इतिहास