Thursday, August 27, 2009

मीडिया हाउस हुआ eye4media

लंबे समय से सोच रहा था की अपने ब्लॉग का नाम कुछ एसा हो जो काम को नाम में दिखाए। साथ ही उसका नाम और url यानी वेब पता भी एक हो। इसकी एक वजह मेरे उन दोस्तों का सुझाव भी है जिनका कहना था की नाम ओस वेब पता एक होना चाहिए इससे कन्फयूजन की स्तिथि हो। उन्होंने ही मुझे आई फॉर मीडिया जेसे किसे नाम का सुझाव दिया। मेरे सभी मित्र बड़े बैनर में पत्रकार हैं। अंतत काफी लम्बी खोज के बाद मुझे आई फॉर मीडिया एक एसा नाम मिला जो इस ब्लॉग के विचारों को नाम से मिलाता है। में उन ब्लोगर्स से माफ़ी चाहता हूँ जिन्हें नाम बदलने की वजह से कुछ भी परेशानी होती है। उम्मीद है की आप सब इस नए नाम के साथ भी मुझे उतना ही प्यार देंगे जितना मीडिया हाउस को दिया।

1 comment:

Anil Pusadkar said...

नाम बदलने से खास फ़र्क़ नही पडता बस काम वैसा ही रहना चाहिये जैसा पहले था।नये नाम के साथ भी अनंत शुभकामनायें।

हर तारीख पर नज़र

हमेशा रहो समय के साथ

तारीखों में रहता है इतिहास